चकबंदी करवाने को लेकर पूर्व मंत्री के भाई की किसानों से हुई मारपीट

0
497
रहीम नगर पडियाना

लखनऊ। बंथरा के ग्राम सभा रहीम नगर पडियाना में बीते एक साल से चकबंदी चल रही है। जमीन का प्रकरण बीते 10 वर्षों से चल रहा है जिसमें ग्रामसभा के 90 प्रतिशत किसानों ने चकबंदी का विरोध किया था जिसको लेकर किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी ने किसानों की तरफ से न्यायालय में जनहित याचिका दायर कर चकबंदी को रुकवाने का निवेदन किया था जिसको लेकर न्यायालय ने चकबंदी विभाग के अधिकारियों को ग्रामसभा में खुली बैठक कर मामले का निर्धारण करने का आदेश किया था।

गुरुवार को लगभग 12 बजे चकबंदी कमेटी के समस्त अधिकारी ग्रामसभा में पहुंचे जहां हजारों की तादात में किसान एकत्रित हुए। चूंकि अधिकारियों को किसानों की समस्या सुननी थीं व उसका निवारण करना था ग्रामसभा के पंचायत भवन में चकबंदी विभाग के अधिकारी बैठक कर रहे थे स्थानीय पुलिस भी मौजूद थी साथ ही ग्रामप्रधान पति व गांव के तमाम संभ्रांत व्यक्ति क्षेत्रपंचायत सदस्य सहित तमाम लोग उपस्थित थे।

इतने में ही सरोजनी नगर के पूर्वमंत्री शारदा प्रताप शुक्ला के भाई अपने पांच छह समर्थको श्याम गोस्वामी, सतीश चंद्र वकील, अन्य के साथ वहां पहुंचकर अपना पक्ष रखा जिस पर वहां पर उपस्थित किसानों में मतभेद हो जाने के कारण गाली गलौज व मारपीट हुई। जिसके चलते बैठक स्थगित कर दी गई।

इस घटना के बाद किसान मंच के प्रदेश अध्यक्ष देवेंद्र तिवारी ने थानाध्यक्ष बंथरा को शिकायत पत्र देते हुए पूर्व मंत्री के भाई पर मारपीट गाली गलौज जान से मारने का प्रार्थना पत्र देकर उचित कारवाई करने को कहा है।

इस संबंध में चौकी प्रभारी हरौनी मुन्ना कुशवाहा से उक्त प्रकरण को लेकर किसानों की ओर से भाजपा के वरिष्‍ठ नेता विरेंद्र रावत ने भी अपने समर्थकों के साथ इस के संबंध में थानाध्‍यक्ष को शिकायती पत्र सौंपा।