अकबर का घिनौना सच, हवस की भूख शांत करने को अपनी ही माँ और बेटी को बनाता था निवाला

0
3015
अकबर

सच मे अकबर भारत के लिये एक काल था जिसने भारतिय महिलाओं का जबरदस्ती अपने हरम मे ठूंस कर रेप किया ,उसके दरबार मे रहने वाले दोकोड़ी के इतिहास कार उसी का नमक खाकर उसके बारे मे कैसे लिखते । वे तो वही बातें लिखते जो वास्तव मेअकबर को इतिहास के अंदर एक अच्छा इंसान साबित कर दे ।

ये भी पढ़ें :-पीएम मोदी के नये दोस्‍त ट्रंप ने दी बड़ी सौगात, सलाहुद्दीन ग्‍लोबल टेररिस्‍ट घोषित

‌‌‌लेकिन ‌‌‌सच्चाई अधिक देर तक छुपती नहीं है। हमारे महान टीवी वाले और किताबों वाले अकबर के किस्से बढ़े अच्छे से सुनाते हैं। किंतु उसकी बुराइयों के बारे मे कोई भी बात नहीं करता ।

ये भी पढ़ें :-पति गया ऑफिस, प्रेमी संग रंगरलियाँ मनाते रंगे हाथ पकड़ी गयी पत्नी

‌‌‌फिर भी अकबर के घटिया चरित्र की साफ झलक मिल जाती है। सच मे ही अकबर वासना का ही एक रूप था । जो कि हिंदू लड़कियों के साथ साथ मुस्लिम महिलाओं के मजे लूटता था । और कोई बेचारा क्या करता उसकी ताकत के सामने ।

ये भी पढ़ें :-लिपस्टिक अंडर माय बुर्का एक फिम्ल जो एडल्ट सीन को लेकर चर्चा में देखे ट्रेलर

‌‌‌पढ़िये नीचे अकबर किस तरह से अपनी हवस की भूख मिटाने के लिये महिलाओं को मजबूर करता था।

ये भी पढ़ें :-सेक्‍स के बाद करते हैं ये काम तो सावधान, रिश्‍तों में पड़ सकती है दरार

इसके अंदर अकबर अपनी हवस मिटाने के लिये औरते रखता था । कहा जाता है कि अकबर अपने हरम मे 4000 औरते रखता था । वह इतना सेक्स का भूखा था कि यह 4000 औरते भी उसकी भूख को मिटा नहीं सकती थी। वरन वह नई नई महिलाओं को हरम मे लाने की कोशिश करता । कहा जाता है कि रात के समय अकबर हरम मे अपने

‌‌‌लिये एक खूबसूरत महिला को चुनता था । यदि हम यह मान ले की हर राजा के पास वैश्याएं होती थी किंतु यदि कोई राजा किसी महिला को उसकी इच्छा के विरूद्व रखैल बनने पर विवश करे और उसे यातना दे तो वह महान राजा कभी नहीं हो सकता । अकबर को जोभी खूबसूरत महिला पसंद आ जाती वह उसे अपने हरम मे ठुंस देता और ‌‌‌‌‌‌उनके साथ मौज मस्ती करता।यही थी अकबर की रहम जिसमे विवाहित महिलाएं भी आ सकती थी। कई बार अकबर ने विवाहित महिलाओं के पति को मारकर उनको अपने हरम मे भेज दिया ।

‌‌‌‌‌‌मीना बाजार

यह भी अकबर के वासना के एक ‌‌‌खेल के लिये बना था । अकबर ‌‌‌मीना बाजार लगाता था। और इस बाजार के अंदर वह खुद ही लड़की बनकर आता था।

बाजार के अंदर आने वाली लड़कियों को देखता था । जो भी उसे पसंद आ जाती उसको अकबर के सैनिक रात को उठा लाते और हरम के अंदर डाल देते । यही इस ‌‌‌मीना बाजार का उदेश्य  था

ये भी पढ़ें :पेशाब ज्यादा देर तक रोकने की आदत, देती है घातक बीमारी को दावत

‌‌‌‌‌‌महाराणा प्रताप के छोटे भाई की पुत्री किरण की सुंदरता के उस समय काफी चर्चें थे ।एक बार किरण भी मेले की सजावट देखने आई अकबर को जब इस बात का पता चला तो वह पहले से ही तैयार था। सहेलियों ने किरण को जनाना महल मे पहुंचा दिया । अकबर ने उसे अपने हरम मे लाने के कई प्रयत्न किये । और जब ‌‌‌अकबर ने उसे छूना चाहा थो किरण ने अपनी तलवार निकाल ली और अकबर की छाती पर चढ़कर धमकाया। और नहीं छोड़ा अपनी मां को भी यह बात भले ही कड़वी हो किंतु यह सच है। जिस व्यक्ति ने अकबर का पालन पोषण किया उसी की मौत का पूरा फायदा अकबर ने उठाया । बरहम खांन की पत्नी सलीमा सुल्तान को अकबर ने अपनी हरम मे लेलिया था। ‌‌‌और इस तरह से उसने अपनी नीचता को साबित कर दिया । ‌‌‌चितौड की पराजय के बाद महारानी जयामल और कई 12000 महिलाओं ने हरम मे जाने से पहले ही अपने प्राण त्याग दिये।

ये भी पढ़ें : चलती कार में जोडे ने किया सेक्‍स, विडियो हुआ वायरल, देखें विडियो

‌‌‌रानी दुर्गावति पर भी अकबर की नजर थी। इसलिये उसने गोंडवान पर आक्रमण किया किंतु रानी ने अपनी हार होते देख आत्महत्या करली किंतु उसकी बेटी को अकबर अपने हरम मे ले गया । ‌‌‌राजकुमार जयमल की हत्या के बाद उसकी पत्नी को अकबर पकड़ कर अपने हरम मे डाल दिया था ।

‌‌‌कहा जाता है कि अकबर के महल के पास एक शराब खाना था जहां पर बहुत सी वैश्याएं भी थी। जिसमे से किसी को भी कोई दरबारी अकबर की अनुमती से अपने घर ले जा सकता था।

loading...